+

Shraddha Murder: श्रद्धा की हत्या एक परफेक्ट मर्डर है? कत्ल की तफ्तीश में दिल्ली पुलिस के छूट रहे हैं पसीने

Shraddha Murder Case: तारीख 15 अक्टूबर वक्त शाम के 7 बजे थे। तभी दिल्ली के महरौली थाने (Mehroli Police Station) में एक के बाद एक पुलिस अफसरों (Police Officer) की गाड़ियां दाखिल होती हैं। एसीपी महरौली, एडिशनल डीसीपी, डीसीपी और ज्वाइंट सीपी दनदनाते हुए थाने में दाखिल होते हैं। दरअसल इसी थाने में श्रद्धा के कत्ल का आरोपी आफताब हवालात में बंद है जिससे लगातार पूछताछ की जा रही है। 

पुलिस अफसरों का कहना है कि आफताब जांच में सहयोग नहीं कर रहा है और वो जांच को गुमराह कर रहा है। पुलिस के सामने अबतक सिर्फ आफताब के बयान मौजूद हैं जिनमें उसने कत्ल करने के बाद लाश के टुकड़ों को फेंकने की बात की है। सवाल ये है कि क्यो आफताब ने सोची समझी साजिश के तहत इस मर्डर को एक परफेक्ट मर्डर बना दिया।

आरोपी आफताब

एक परफेक्ट मर्डर

आइए जानते हैं कि कैसे श्रद्धा की हत्या एक परफेक्ट किलिंग का मामला है। श्रद्धा की हत्या के बाद आफताब ने बड़े ही इत्मीनान के साथ लाश के टुकड़े किए। लाश को तब काटा गया जब खून जम चुका था। लाश को उन जगहों से काटा गया जहां पर ज्वाइंट होते हैं। आफताब ने लाश से निकले बड़े अंगो मसलन छोटी-बड़ी आंत, दिल व लीवर के छोटे छोटे टुकड़े किए ताकि आसानी से उसको थोड़ा थोडा करके फेंका जा सके।

पुलिस को किन सबूतों की तलाश है?

सच तो ये है कि पुलिस की लाख कोशिशों के बाद भी अब तक कोई ऐसा सबूत नहीं मिला तो कत्ल की साजिश की हर कड़ी को जोड़ता हो। पुलिस को ना तो आरी मिली ना ही चाकू मिला है। पुलिस को ना ही श्रद्धा का मोबाइल फोन मिला है। पुलिस को जो हड्डियां बरामद हुई है वो शरीर के पिछले हिस्से की है। जैसे रीड की हड्डी के नीचे के हिस्से की जैसे करीब 10 बॉडी पार्ट्स अभी तक मिले हैं।

थाने में पहुंचे पुलिस अधिकारी

पुलिस को अब तक ये मिला है 

एक बड़ा बॉडी पार्ट पीछे के हिस्से का रीड के हड्डी के नीचे का मिला है। महरौली के जंगल में नाले से कुछ हड्डिया बरामद हुई हैं। फ्लैट में किचन में खून के धब्बे मिले हैं जिनके सैंपल को जांच के लिए भेजा गया है ताकि पता चल सके कि धब्बे किसके हैं। फ्रीज को केमिकल से साफ किया हुआ था आरोपी ने ताकि पकड़े जाने पर फोरेंसिक जाँच को गच्चा दे सके। श्रद्धा के पिता को दिल्ली पुलिस जल्द DNA सेंपल के लिए बुलाएगी। जिसके बाद ब्लड सैंपल को और हड्डियां के सेम्पल को FLS को भेजा जाएगा जिसके बाद FSL DNA जांच करेगी।

आफताब पढ़ता था थ्रिलर नावेल

अब तक की तफ्तीश के बाद पुलिस को शक है कि कत्ल के बाद श्रद्धा के शव के बाथरूम में  टुकड़े किये गए थे। पुलिस को घर मे काफी थ्रिलर नावेल और लिट्रेचर से जुड़ी किताबें भी मिली हैं इससे पता चलता है आफ़ताब को बुक रीडिंग और नावेल पढ़ने का शौकीन था। जाहिर है पुलिस को अभी श्रद्धा के सिर का हिस्सा नहीं मिला है जोकि सबूतों की अहम कड़ी है।

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter