+

गुस्से में नहीं, प्री-प्लान मर्डर है; श्रद्धा ने पहले ही कहा था, वो गला दबाकर मर्डर करेगा फिर टुकड़े

Shraddha Murder Case :  श्रद्धा वाल्कर का मर्डर क्या गुस्से में आकर की गई थी. जैसा की कोर्ट में आफताब ने दावा किया था कि हां मैंने गुस्से में श्रद्धा का मर्डर कर दिया. लेकिन खुद श्रद्धा आज से ठीक 2 साल पहले यानी 23 नवंबर 2020 को एक शिकायती लेटर (Shraddha Letter) मुंबई पुलिस को दी थी. उस लेटर में जो बातें हैं उससे साफ पता चलता है कि आफताब झूठ बोल रहा है. गुस्से में आकर कत्ल की कहानी भी आफताब की बनाई हुई एक कहानी है.

क्योंकि श्रद्धा ने उस लेटर में साफ-साफ लिखा था कि आफताब मेरी हत्या करना चाहता है. वो मुझे मारकर मेरे टुकड़े-टुकड़े करना चाहता है. और उस लेटर के करीब डढ़े साल बाद ही श्रद्धा की वो लाइनें सच साबित हो जातीं हैं. ना सिर्फ श्रद्धा का मर्डर होता है बल्कि उसकी लाश के कई टुकड़े कर दिए जाते हैं. तो क्या श्रद्धा के लेटर में लिखीं ये बातें महज इत्तेफाक हैं.

Shraddha murder case Letter

मुर्दा कभी झूठ नहीं बोलते. लाशें सच की गवाही देती हैं. भले ही श्रद्धा की लाश नहीं मिली. जो लाश के टुकड़े मिले हैं उनकी अभी पुष्टि नहीं हुई है. लेकिन ये सच है कि श्रद्धा की हत्या हो चुकी है. इस बात को आफताब ने खुद कोर्ट में कबूल कर लिया है. उसने कहा कि मैंने गुस्से में हत्या की है. लेकिन साइकोलॉजिकल एक्सपर्ट कहते हैं कि आफताब का ये दावा गलत है. अगर उसने गुस्से में कत्ल किया होता तो कुछ घंटे बाद खुद अपनी गलती मान लेता. लाश के टुकड़े-टुकड़े करके उसे ठिकाने लगाने की पूरी साजिश नहीं रचता. हाथ से मैप नहीं बनाता.

श्रद्धा के लेटर का हिंदी ट्रासलेशन

आखिर श्रद्धा ने लेटर में क्या लिखा था, पहले उसे जानते हैं..

मैं श्रद्धा विकास वाल्कर, उम्र 25 साल, आफताब अमीन पूनावाला, उम्र 26 साल के बारे में रिपोर्ट करना चाहती हूं। आफताब मेरे साथ मारपीट और गाली गलौच करता रहता है। आज उसने गला घोंटकर मुझे जान से मारने की कोशिश की। वो टुकड़े-टुकड़े कर मेरी जान लेने की धमकी देता है और ब्लैकमेल करता है। मेरे साथ उसकी मारपीट के छह महीने हो गए हैं लेकिन पुलिस के पास जाने का मुझ में साहस नहीं क्योंकि उसने मुझे जान से मारने की धमकी दी है।

आज उसने गला घोंटकर मुझे जान से मारने की कोशिश की। वो टुकड़े-टुकड़े कर मेरी जान लेने की धमकी देता है और ब्लैकमेल करता है।

श्रद्धा की हैंडराइटिंग में लिखा हुआ पुलिस को लेटर

श्रद्धा ने गला घोंटकर मारने और फिर लाश के टुकड़े-टुकड़े करने की बात पहले ही लिख दी थी

Shraddha Letter Murder : श्रद्धा के  23 नवंबर 2020 के लेटर से पता चलता है कि आफताब उसे काफी पहले ही मारना चाहता था. उसने लिखा था कि वो गला घोंटकर मुझे मारना चाहता है. मर्डर के बाद वो मेरे टुकड़े करने की धमकी देता है. और वही बात 18 मई 2022 को सच साबित हुई. इस लेटर में श्रद्धा ने ये भी लिखा था कि मैं आफताब से शादी करना चाहती हूं. वो मुझे ब्लैकमेल भी कर रहा है. लेकिन ये पता नहीं चल सका कि आखिर आफताब किस तरह से उसे ब्लैकमेल कर रहा था.

Shraddha murder letter

लिव-इन में रहते हुए आफताब क्यों ब्लैकमेल कर रहा था

श्रद्धा के लेटर से एक बात साफ है कि आफताब उसे ब्लैकमेल कर रहा था. जिस वजह से मर्डर करने की धमकी. हत्या के बाद काटकर टुकड़े करने की धमकी. शादी के लिए बात करने पर शादी नहीं करने की भी धमकी. ऐसी तमाम बातें हैं जिस वजह से श्रद्धा ने 23 नवंबर 2020 को पुलिस में शिकायत की. ये भी कहा कि अब आफताब के साथ नहीं रहना चाहती. लेकिन उसके बाद वो आफताब के साथ रही भी. और आखिर में पुलिस शिकायत को भी वापस ले लिया.

Shraddha Murder case

ये अचानक गुस्से में किया हुआ मर्डर नहीं है : एक्सपर्ट

मनोचिकित्सक डॉ. प्रवीण बताते हैं कि जिस तरह से ये केस को देखा है उससे लगता है कि ये पूरी प्लानिंग के साथ किया हुआ मर्डर है. गुस्से में अचानक हुआ मर्डर तो बिल्कुल नहीं लगता है. मान लिया कि अगर कोई शख्स अपने पार्टनर की हत्या गुस्से में आकर कर भी दे तो कुछ घंटे या कुछ दिन बाद उसे अफसोस होने लगता है.

अक्सर ऐसे केस सामने आते हैं कि कोई शख्स गुस्से में आकर किसी की हत्या कर देता है तो खुद को भी नुकसान पहुंचा लेता है. या फिर खुद ही पुलिस को बता देता है. या खुद थाने में जाकर सरेंडर कर देता है. या फिर कई दिनों तक डेडबॉडी के साथ कमरे में ही पड़ा रहता है. लेकिन ये शख्स यानी आफताब कई महीने तक लाश के टुकड़ों को अलग-अलग जगहों पर छुपाने की कोशिश में लगा रहा.

सबूत मिटाने के लिए इंटरनेट पर सर्च किया. बाकायदा उसने मैप बनाया कि शरीर के टुकड़े को कहां ठिकाने लगाएं. ऐसे में ये केस बिल्कुल भी अचानक गुस्से में किया हुआ मर्डर नहीं लगता. बल्कि पूरी साजिश के तहत कई महीनों या फिर कई दिनों की प्लानिंग के बाद किया हुआ कत्ल है.

श्रद्धा की फाइल फोटो

श्रद्धा केस में आज के बड़े अपडेट

श्रद्धा का लेटर : आज यानी 23 नवंबर 2022 को श्रद्धा का लिखा वो लेटर सामने आया जिसने उसने 2 साल पहले लिखा था. यानी 23 नवंबर 2020 को. इस लेटर को मुंबई पुलिस में दिया था. जिसमें लिखा था कि आफताब उसे परेशान करता है. गाली देता है. गला घोंटकर मेरी हत्या करना चाहता है. मर्डर के बाद मेरे शरीर के कई टुकड़े कर उसे फेंकने की धमकी दे रहा है.

श्रद्धा का इंस्टाग्राम चैट : मौत से कुछ घंटे पहले यानी 18 मई 2022 की शाम को एक दोस्त से श्रद्धा ने चैट किया था. उस चैट में लिखा था कि मेरे पास एक नई खबर है. उस चैट के काफी देर बाद तक उसने कोई चैट नहीं की. उस चैट पर ही दोस्त ने किसी अनहोनी की आशंका भी जताई थी.

आफताब का पॉलिग्राफी टेस्ट : श्रद्धा मर्डर केस में आफताब का पॉलिग्राफी टेस्ट हुआ. जिसमें एक दर्जन से ज्यादा सवाल पूछे गए. इसके आधार पर पुलिस आगे की तफ्तीश कर रही है. अब जल्द ही किसी दिन आफताब का नारको टेस्ट किया जाएगा.

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter