+

राजू ठेहट की हत्या के बाद सुर्खियों में लेडी डॉन अनुराधा चौधरी का नाम, इसलिए हो रहा है शक़

Sikar Hatyakand: राजस्थान की लेडी डॉन (Lady Don), यानी मैडम मिंज यानी अनुराधा चौधरी (Anuradha Chaudhary)। ये नाम एक बार फिर सुर्खियों (Headline) में है। खासतौर पर सीकर में हुए गैंगवॉर (Gangwar) के बाद एक बार फिर इस नाम को लेकर सुर्खियां नज़र आने लगी हैं।

तीन रोज पहले यानी 3 दिसंबर को राजस्थान के सीकर में गैंग्स्टर राजू ठेहट की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उस शूटआउट के बाद राजस्थान के कई गैंग के बीच छिड़ी रंजिश की खबरों के बीच अचानक राजस्थान की लेडी डॉन का नाम तेज़ी से हवा में उछला और सुर्खियों का हिस्सा बन गया।

अनुराधा चौधरी नाम की ये लेडी डॉन किसी जमाने में राजस्थान के सबसे बड़े गैंग आनंदपाल गैंग से जुड़ी हुई थी। बल्कि अनुराधा चौधरी के बारे में गैंग्स्टर से लेकर पुलिसवालों तक का एक ही कहना है कि अनुराधा चौधरी असल में आनंदपाल के साथ लिव इन में रहती थी। और उसी ने आनंदपाल को इंग्लिश में बात करना सिखाया था।

फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने में माहिर अनुराधा चौधरी का नाम राजू ठेहट की हत्या के बाद फिर से उछलना शुरू हो गया है। गुनाहों की दुनिया में गन गर्ल के नाम से मशहूर हो चुकी अनुराधा चौधरी के खिलाफ अपहरण और फिरौती समेत एक दर्जन मामले दर्ज हैं।

आनंद पाल की मौत के बाद से ये रिवॉल्वर रानी अनुराधा चौधरी लॉरेंस बिश्नोई गैंग के काला जठेड़ी गैंग से जाकर जुड़ गई और आजकल काला जठेड़ी के साथ लिव इन में रह रही है।

नाम कमाने की चाहत में बनीं थी गैंग्स्टर

Sikar Don Killed: मोदी कॉलेज से बीसीए यानी कंप्यूटर साइंस में डिग्री लेने वाली अनुराधा चौधरी शुरु से ही बड़ा बनने का सपना देखती रही है। हालांकि उसने दीपक मिंज से शादी कर ली थी।और शादी के बाद अपने पति के साथ मिलकर शेयर ट्रेडिंग का कारोबार करने लगी थी।

लेकिन देखते ही देखते वो लाखों के कर्जे में जा फंसी और उसके जरिए शेयर बाजार में पैसा लगाने वाले अपना पैसा वापस मांगने लगे। नतीजा ये हुआ कि अनुराधा ने तब राजस्थान के एक बड़े गैंग बलबीर बानूड़ा से कॉन्टेक्ट किया। उसी बलबीर बानूड़ा ने अनुराधा को आनंदपाल से मिलवाया था।

अनुराधा को देखकर आनंदपाल लट्टू हो गया लिहाजा उसने अनुराधा से अपने गैंग में शामिल होने का ऑफर दिया। कुछ कशमकश के बाद 2013 में अनुराधा ने अपने पति को छोड़कर आनंदपाल गैंग ज्वाइन कर लिया।

मॉडर्न लिबास में रहने वाली अनुराधा की फर्राटेदार अंग्रेजी ने आनंदपाल को उसका मुरीद बना दिया था। मॉडर्न तौर तरीके से रहने की आदी अनुराधा की आनंदपाल के साथ नज़दीकी बढ़ने लगी थी। अनुराधा का जादू आनंदपाल पर कुछ इस कदर छाया कि वो पुराने लिबास को छोड़कर जींस और टीशर्ट के साथ स्टाइलिश चश्मों में नज़र आने लगा।

हत्या के तौर तरीकों के पीछे अनुराधा का नाम

News Of Lady Don: अनुराधा भी उसे मॉडर्न डॉन बनाने में लग गई। अनुराधा के कहने पर ही आनंदपाल ने अपना सारा लाइफ स्टाइल की चेंज कर दिया। यहां तक कि गैंग किसी को फिरौती के लिए पकड़ता था तो उसे किस तरह से टॉर्चर करना है ये भी पूरी गैंग को अनुराधा ने ही सिखाया था। आनंदपाल के साथ रहते हुए अनुराधा ने एके 47 चलाना सीख गई थी।

लेकिन सवाल यही उठता है कि आखिर इस वक़्त अनुराधा का नाम क्यों सुर्खियों में फिर उछाला जा रहा है। ज़ी न्यूज़ की खबरों पर यकीन किया जाए तो राजू ठेहट की हत्या के पीछे अनुराधा चौधरी का ही हाथ माना जा रहा है।

गैंग के लोगों का यही कहना है कि राजू ठेहट को मरवाने के पीछे काला जठेड़ी गैंग का हाथ हो सकता है। क्योंकि जिस तरीके से राजू ठेहट को गोलियों से छलनी किया गया वो तरीका काला जठेड़ी का ही मालूम पड़ता है। और इस काम को अंजाम देने के लिए अनुराधा का दिमाग माना जा रहा है।

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter