+

Crime Story : बेटी का मर्डर कर गांववालों से बोला, मैंने शादी कर दी है, 3 साल बाद ऐसे खुला राज

Rajasthan Crime Story in hindi : राजस्थान के धौलपुर (Dholpur) जिले के मनिया एरिया की अजीब मर्डर मिस्ट्री. इसमें एक लड़की मर्डर हुआ. जिसे लोग जिंदा समझते रहे वो 3 साल पहले ही मर चुकी थी.

Rajasthan Murder Mystery : जिस लड़की को गांव के लोग पिछले 3 साल से शादीशुदा समझ रहे थे. जिसे पति के साथ ससुराल में होने की बात सोच रहे थे. असल में वो लड़की मर चुकी थी. उसकी हत्या की गई थी. उसका कसूर सिर्फ इतना था कि वो किसी लड़के से प्यार करती थी. उससे प्यार करती थी जिसे घरवाले पसंद नहीं करते थे. घरवाले बार-बार उसके प्यार को उससे दूर कर रहे थे. लेकिन वो हर बार उसके करीब चली जा रही थी. आखिर में उस लड़की को एक दिन दुनिया से ही दूर कर दिया गया. अब पूरे 3 साल बाद इस मर्डर मिस्ट्री (Murder Mystery) में सनसनीखेज खुलासा हुआ है. जानते हैं क्या है पूरा मामला.

2 अक्टूबर 2019 को नदी किनारे मिली थी लड़की की लावारिस लाश

ये मामला राजस्थान के धौलपुर जिले के मनिया थाना एरिया का है. घटना करीब 3 साल पुरानी है. 2 अक्टूबर 2019 को एक लड़की की लाश मिली थी. ये लाश गांव बगचौली खार की नदी के पास मिली थी. लड़की की उम्र करीब 18 साल थी. उस समय लड़की की ना पहचान हुई थी और ना ही कोई कार्रवाई हुई थी. जांच पेंडिंग में था. अब नवंबर 2022 में नए पुलिस अधिकारी डीएसपी दीपक खंडेलवाल ने मनिया पुलिस थाने में पेंडिंग केस की रिपोर्ट देखी तब ये केस मिला. इस बारे में उन्होंने पुलिस टीम से तुरंत पड़ताल शुरू करने के लिए कहा.

गांव में बताया था कि बेटी की शादी हो चुकी है

इसके बाद पुलिस ये पता लगाने लगी कि आखिर आसपास के इलाके में पिछले 3 साल से 18 साल की कोई लड़की लापता है. इस दौरान पुलिस को गांव खड़गपुर में रहने वाले विरोगी के 18 साल की बेटी के लापता होने की जानकारी मिली. लोगों ने बताया कि वो गांव में बताता है कि उसकी कई साल पहले शादी करा दी थी. लेकिन शादी कराने के बाद से कभी वो लड़की गांव नहीं लौटी. गांव के किसी ने भी उस लड़की को देखा भी नहीं है. उस लड़की का नाम उपासना था. अब पुलिस उपासना के बारे में पड़ताल करने लगी तो वो बात सच निकली.

लड़की के पिता को पुलिस की जांच का पता चला तो वो घर छोड़कर अचानक कहीं चला गया. इससे पुलिस का शक और गहरा गया. इसके बाद पुलिस ने उपासना के पिता विरोगी पर ही शक जताया और उसकी तलाश शुरू की. पुलिस की जांच में ये भी पता चला कि विरोगी ने कभी भी अपनी बेटी के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई थी. इसके बाद विरोगी को गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने उससे पूछताछ की तब पूरी घटना का खुलासा हुआ.

बेटी प्रेमी से शादी करना चाहती थी इसलिए गला घोंट मार डाला : पिता

आरोपी पिता ने पुलिस को बताया कि मेरी बेटी किसी और लड़के से प्यार करती थी. उसे बार-बार मना किया गया. फिर भी वो मानने को तैयार नहीं हुई. इसलिए उसे मामा के घर ग्वालियर भेज दिया था. वहां जाने के बाद भी चुपके-चुपके वो फोन पर अपने प्रेमी से बात करती थी. इसकी जानकारी मिली तब वो गुस्से में ग्वालियर पहुंचा. वहां जाने के बाद उपासना को घर लाने लगा. रास्ते में जब मनिया रेलवे स्टेशन से उतरकर बगचोली गांव की खार नदी के पास पहुंचा तो उसने बेटी को प्रेमी को हमेशा छोड़ने की जिद की. बेटी ने उसकी बात नहीं मानी.

तब गुस्से में लड़की की चुन्नी से ही उसका गला घोंट दिया और हत्या कर दी. इसके बाद उसकी लाश को सुनसान जगह पर फेंककर घर लौट आया था. अपने गांव आने के बाद उसने ये कह दिया था कि उपासना की शादी ग्वालियर में ही कहीं कर दी है. इसके अलावा आरोपी पिता ने इस बारे में पुलिस को भी कोई सूचना नहीं दी. चूंकि उपासना की किसी दूसरे थाना एरिया में लाश मिली थी तो शुरू में उसकी पहचान नहीं हो पाई थी. अब पेंडिंग केस की जांच में पूरी घटना का खुलासा हुआ है.

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter