+

Maharashtra Crime: नकली शादी-असली कत्ल, 4 करोड़ के लिए नकली बीवी ने बनाया खौफनाक मर्डर प्लान!

Nasik Crime News: महाराष्ट्र के नासिक में चार करोड़ (Four Crore) की बीमा (Insurance) की रकम हासिल करने के लिए एक युवक और उसकी दोस्त (Friend) ने ऐसी साजिश रची जिसे सुनकर लोगों के पैरों तले जमीन खिसक गई। दरअसल 46 साल के रमेश भालेराव की दोस्ती (Friendship) 35 साल की रचना से थी।

दोनों रातों-रात करोड़पति (Millionaire) बनना चाहते थे। शार्टकट से करोड़ों कमाने की चाहत में दोनों ने एक साजिश (Conspiracy) की स्क्रिप्ट तैयार की। साजिश के तहत रमेश और रचना ने मिलकर फर्जी दस्तावेजों के आधार पर एक मैरिज सार्टिफिकेट बनवाया। इस सार्टिफिकेट में दोनों ने एक दूसरे को पति पत्नी करार दे दिया।

शादी के नकली प्रमाण पत्र बनाने के बाद रमेश ने चार करोड़ की एक पॉलिसी खरीदी और इस पॉलिसी में नॉमिनी रचना को बना दिया। यहां ये साफ था कि अगर रमेश की मौत होती है तो उसके बीमा की चार करोड़ की रकम रचना को मिल जाएगी। प्लानिंग के तहत अब दोनों को तलाश थी रमेश की तरह डील डौल कद कामद मे दिखने वाले शख्स की।

हुआ यूं कि दोनों ने प्लान किया कि रमेश जैसे शख्स की हत्या कर उसको सड़क हादसा दिखा दिया जाए ताकि लोग ये समझें कि रमेश की मौत हो गई और चार करोड़ की बीमा राशि रचना को मिल जाए। दोनों ने प्लानिंग तैयार कर ली थी लेकिन उन्हे कोई एसा शख्स नहीं मिल रहा था जो रमेश जैसा दिखता हो।

किसी अनजान साजिश से बेखबर रमेश पूरी कोशिशों मे लगा था इसी बीच रचना ने एक नई साजिश का तानाबाना बुनना शुरु कर दिया। जी हां रचना की इस साजिश में अब खुद शिकारी को शिकार होना था। समझे आप। जी रचना ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर रमेश की ही असलियत में हत्या की साजिश रच डाली। रचना ने दोस्तों को बताया कि यदि रमेश की मौत हो जाती है तो चार करोड़ उसे मिल जाएंगे जिसे सब बांट लेंगे।

प्लान को अमली जामा पहनाने के लिए रचना ने दोस्तों के साथ मिलकर रमेश की हत्या कर दी और बाइक समेत रमेश की लाश इंदिरानगर जॉगिंग ट्रैक पर फेंक दी जिससे ये लगे कि रमेश की मौत हादसे में हुई है।  पुलिस ने भी इस मामले को हादसे मे दर्ज कर लिया। रमेश की मौत की फाइल बंद हो चुकी थी कि तभी रमेश के भाई ने पुलिस को दरखास्त देकर कहा कि रमेश की मौत हादसे में नहीं हुई है बल्कि उसकी हत्या की गई है।

अब रमेश की हादसे वाली फाइल दोबारा खुल चुकी थी। पुलिस ने जांच आगे बढ़ाई तो पता चला कि रचना नाम की महिला को रमेश ने चार करोड़ की पॉलिसी का नॉमिनी बनाया था। पुलिस ने रचना से सख्ती से पूछताछ की तो तीन साल पुराना हत्या के केस से पर्दा उठ गया।

खुलासा ये हुआ कि रमेश की हत्या को बाद उसकी लाश को कार से रौंद कर एक्सीडेंट की शक्ल दी गई थी। आरोपियों ने महिला के नाम चार करोड़ की बीमा राशि भी हासिल कर ली थी। रचना ने पुलिस को बताया कि उस बीमा की 50 लाख की रकम ही मिली थी। पुलिस ने रचना समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।  

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter