+

बेटी से कराई सुसाइड की एक्टिंग और मार डाला, दूसरी पत्नी को फंसाने पति ने रची आत्महत्या की कहानी

Crime News: महाराष्ट्र (Maharashtra) के नागपूर (Nagpur) से एक बेहद ही हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है. यहां एक पिता ने अपनी नाबालिग बेटी को अपने रिश्तेदारों को फंसाने के लिए मोहरा बनाया और उससे कई सुसाइड नोट (suicide notes) लिखवाए जिसमें रिश्तेदारों के नाम थे, फिर उसने असल में अपनी बेटी की हत्या कर दी. एक पुलिस अधिकारी ने शनिवार को बताया कि नागपुर शहर के कलमाना इलाके में छह नवंबर को एक 16 वर्षीय लड़की अपने घर में पंखे से लटकी मिली थी.

कलामाना थाने के एक अधिकारी ने बताया कि कमरे से मिले पांच सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने उसकी सौतेली मां, चाचा, चाची और दादा-दादी के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया है. लेकिन जांच के दौरान पीड़िता के पिता के मोबाइल फोन से घटना के पीछे कोई नापाक साजिश होने की बात सामने आई जो आत्महत्या जैसी लग रही थी.

आरोपी परिजनों को सबक सिखाना चाहता था

एक अधिकारी के मुताबिक, पुलिस को मृतक लड़की के पिता का मोबाइल मिला, जब उसकी तलाशी ली गई तो उसमें पीड़िता के फोटो और वीडियो मिले, जिससे पता चला कि उस व्यक्ति ने अपनी बेटी को ऐसा काम करने के लिए कहा था जैसे उसने आत्महत्या कर ली हो. करते हुए पुलिस ने दावा किया कि शख्स अपने रिश्तेदारों को सबक सिखाना चाहता था.

वहीं, पिता ने लड़की से कुछ सुसाइड नोट लिखने और उन रिश्तेदारों के नाम भी लिखने को कहा. जब उसने यह सब किया तो लड़की ने अपने पिता के निर्देशानुसार उसके गले में फंदा डाल दिया और एक स्टूल पर खड़ी हो गई. इस दौरान आरोपी ने फोटो क्लिक कर ली थी. जिसके बाद शख्स ने स्टूल पर लात मारी और बच्ची की फांसी लगने से मौत हो गई, जब ये घटना हुई तो उसकी 12 साल की बहन भी वहीं थी.

पुलिस को गुमराह किया

आरोपी पिता घटना को अंजाम देने के बाद घर से निकल गया. उसने पुलिस को गुमराह करने के लिए बताया कि वह किसी काम से बाहर गया है और जब वह घर लौटा तो उसने पाया कि उसकी बेटी ने फांसी लगा ली है, पुलिस ने शुरू में पांच रिश्तेदारों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता के तहत आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया था. लेकिन तब जांचकर्ताओं को अपनी जांच में बिल्कुल अलग मामला मिला.

पुलिस अधिकारी ने कहा कि जब हमें उसके फोन में सुसाइड एक्ट की फोटो मिली तो हमने उस शख्स से पूछताछ की और उसने अपनी बेटी की हत्या करने की बात कबूल कर ली. उनकी पहली पत्नी का 2016 में निधन हो गया था और दूसरी पत्नी भी घर छोड़ चुकी है. मजदूर के रूप में काम करने वाले व्यक्ति को अब हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि पुलिस आगे की जांच कर रही है.

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter