+

Who is Ayman Al Zawahiri: कौन था अल-जवाहिरी जो 2 दशक तक नहीं आया अमेरिका के हाथ

Who is Ayman Al Zawahiri: कौन था अयमान अल-जवाहिरी? 2001 में अमेरिका (America) पर हुए आतंकी हमले के बाद से ही यह सीआईए ही हिट लिस्ट में शामिल था.

Who is ayman al zawahiri?: अलकायदा (Al Qaeda) चीफ अयमान अल-जवाहिरी (ayman al zawahiri) को अमेरिका की केंद्रीय खुफिया एजेंसी (CIA) ने ड्रोन (Drone Attack) हमले में मार गिराया है. 2001 में अमेरिका (America) पर हुए आतंकी हमले के बाद से ही यह सीआईए ही हिट लिस्ट में शामिल था. 11 सितंबर, 2001 के हमलों में चार विमानों को हाईजैक करने में मदद की थी.

ayman al zawahiri Killed In Drone Attack: अमेरिका इससे पहले 2011 में अल कायदा के संस्थापक ओसामा बिन लादेन (Osama bin Laden) को पहले ही मार चुका है. बता दें कि अमेरिका में हुए 9/11 हमरे में तीन हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी. आखिर अल जवाहिरी था कौन और सीआईए को इस तक पहुंचने में 21 साल समय कैसे लग गया. अपनी इस रिपोर्ट में इसे विस्तार से समझते हैं

Al-Zawahiri Killed: अलकायदा के सरगना अयमान अल-जवाहरी ने अमेरिका में 11 सितंबर 2001 के हमलों में चार विमानों को हाइजैक करने में मदद की थी. अमेरिकी सैनिकों के देश छोड़ने के ठीक 11 महीने बाद इस हवाई हमले को अंजाम दिया है.

9/11 के हमलों में बचे अमेरिकियों को भले ही अल-जवाहरी का नाम याद न हो है, लेकिन उसका चेहरा वे कभी नहीं भुला सकते हैं. ओसामा बिन लादेन को अमेरिकी सैनिकों ने 2011 में पाकिस्तान में उसके ठिकाने पर हमला कर मार दिया था. ओसामा बिन लादेन की मौत के बाद अयमान अल जवाहिरी अल कायदा प्रमुख बना था.

आतंकवादी बनने से पहले सर्जन था अयमान अल जवाहिरी

जवाहिरी का जन्म 19 जून, 1951 को मिस्र में हुआ था. उसका परिवार संपन्न था. वह बचपन से ही धर्म को लेकर कट्टर था. उसके पिता भी फार्माकोलॉजी के प्रोफेसर थे. जवाहिरी को पहली बार कट्टरपंथी संगठन ब्रदरहुड के साथ जुड़ने के कारण गिरफ्तार किया गया था. उस वक्त जवाहिरी की उम्र महज 15 साल थी.

आतंकी संगठन में शामिल होने से पहले उसने काहिरा विश्वविद्यालय से सर्जरी में मास्टर डिग्री हासिल की थी. उसने कुछ समय तक एक सर्जन के तौर पर काम भी किया. लेकिन अफगानिस्तान पर सोवियत कब्जे का विरोध करने के लिए वो कट्टरपंथी इस्लामिक जिहाद में शामिल हुआ था. इसी दौरान उसकी मुलाकात आसोमा बिन लादेन और अन्य आतंकवादियों से हुई.

80 के दशक में शुरू की आतंकी गतिविधियां

  • 1980 के दशक में उसे उग्रवादी आतंकी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार किया गया.

  • अपनी रिहाई के बाद उसने देश छोड़ दिया और हिंसक अंतरराष्ट्रीय जिहादी आंदोलनों (International Jihadist Movements) में शामिल हो गया.

  • आखिरकार वह अफगानिस्तान में बस गया और एक अमीर सऊदी, ओसामा बिन लादेन के साथ हाथ मिला लिया.

  • दोनों ने मिलकर अमेरिका के खिलाफ युद्ध की घोषणा की और 11 सितंबर 2001 के हमलों को अंजाम दिया.

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter