+

कस्टम विभाग क्या है ? What is Custom Department?

1. कस्टम विभाग क्या है ? What is Custom Department?

कस्टम विभाग केंद्र सरकार के वित्त मंत्रालय के अंतर्गत काम करता है। इसे केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क बोर्ड भी कहा जाता है। ये वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग का एक हिस्सा होता।

2. कस्टम विभाग का काम क्या होता है ? What is the work of Custom Department?

टैक्स वसूलना : कस्टम अधिकारी किसी भी माल के आयात और निर्यात पर एक तरह का टैक्स वसूल करते है। विदेशों से काफी सामान भारत में आता है। कस्टम विभाग का काम होता है केंद्रीय उत्पाद शुल्क और सीमा शुल्क की वसूली की जाए।

प्रतिबंधित सामान पर नजर रखना : विदेशों से आने वाला सामान फर्जी तो नहीं है, प्रतिबंधित तो नहीं है, ये सब चीजें देखना कस्टम विभाग का काम होता है।

कस्टम विभाग के अधिकारी तमाम एयरपोर्ट्स (Airports) और बदरगाहों (Ports) पर तैनात होते हैं।

यूं कहें कि कस्टम विभाग की जिम्मेदारी होती है कि जो भी माल निर्यात-आयात हुआ हो, उसकी अच्छी तरह से जांच करे।

3. कस्टम अधिकारी की क्या जिम्मेदारी होती है ? What are the responsibilities of a Customs Officer?

कस्टम अधिकारी की ये जिम्मेदारी होती है कि वो इस चीज की जांच करे कि क्या आ रहा है ?, क्या जा रहा है ? , इसके लिए कस्टम ऑफिसर के द्वारा वस्तुओं और व्यक्तियों की जांच की जाती है और तस्करी पर पूर्ण रूप से प्रतिबन्ध लगाना कस्टम अधिकारी की ड्यूटी में शामिल है।

कस्टम अधिकारी की Salary अच्छी-खासी होती है।

हजारों करोड़ा का माल बिना चैंकिग के प्रवेश करता है ! Goods worth thousands of crores enter without checking

लेकिन ये बात भी सच है कि रोजाना एयरपोर्ट्स, बदरगाहों से करोड़ों रुपए का माल बिना उत्पाद शुल्क, सीमा शुल्क के भारत में प्रवेश करता है। इसके साथ रोजाना कई प्रतिबंधित वस्तुएं भी भारत में प्रवेश करती है। ऐसा आरोप लगता है कि करोड़ों रुपए अधिकारियों को दिए जाते है और वो ये माल बिना जांचे ही भारत में प्रवेश करने की अनुपति प्रदान कर रहे हैं। इससे सरकार को भारी राजस्व का तो नुकसान हो रहा है। साथ साथ नकली, प्रतिबंधित वस्तुएं भारतीय बाजार में आ रही है।

शेयर करें
Tags :
Whatsapp share
facebook twitter