+

इस असॉल्ट राइफल से हुई थी सिद्धू मूसेवाला की हत्या, एक मिनट में 500 से ज्यादा गोलियां दागती है ये गन

Sidhu Moose Wala Murder: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moose Wala) की गाड़ी पर 30 से ज्यादा राउंड फायर किए गए हैं. कुछ सेकेंड्स में इतनी गोलियां दागने के लिए किसी को भी एक ऑटोमैटिक असॉल्ट राइफल चाहिए. सिद्धू को मारने के लिए जिस बंदूक का नाम आ रहा है, वो एएन-94 (AN-94) है. इस राइफल को रूस ने AK-47 की जगह उपयोग करने के लिए बनाया था. लेकिन फिलहाल ये ज्यादा देशों में उपयोग नहीं हो रही है.

AN-94

एएन-94 (AN-94) असॉल्ट राइफल में एएन (AN) का फुल फॉर्म है एवतोमैत निकोनोव (Avtomat Nikonova) है. इसकी डिजाइनिंग 1980 से शुरु की गई थी जो 1994 में पूरी हुई थी. इसे चीफ डिजाइनर गेनाडी निकोनोव (Gennadiy Nikonov) ने बनाया है. इन्होंने ही पहले निकोनोव मशीन गन (Nikonov Machine Gun) बनाई थी. यह असॉल्ट राइफल 1997 से लगातार रूस के सैन्य बलों में सेवा दे रही है.

एएन-94 (AN-94) असॉल्ट राइफल का वजन 3.85 किलोग्राम है. स्टॉक यानी बट के साथ इसकी लंबाई 37.1 इंच और बगैर स्टॉक के 28.7 इंच होती है. इसके बैरल यानी नली की लंबाई 15.9 इंच है. इसमें 5.45x39 mm की गोलियां लगती हैं. सबसे खतरनाक बात ये है कि एएन-94 (AN-94) असॉल्ट राइफल दो शॉट बर्स्ट ऑपरेशन का ऑप्शन देती है. यानी एक के पीछे एक करके दो गोलियां तेजी से निकलती हैं. जिनके निकलने के समय में माइक्रोसेकेंड्स का अंतर होता है. यानी दुश्मन को एक साथ दो गोलियां लगती हैं.

एएन-94 (AN-94)

एएन-94 (AN-94) असॉल्ट राइफल से बर्स्ट मोड में 1800 गोलियां दागी जा सकती है. फुल ऑटोमैटिक मोड में हर मिनट 600 राउंड गोलियां निकलती हैं. गोलियों की गति 900 मीटर प्रति सेकेंड है. यानी सामने वाले को बचने का मौका बिल्कुल नहीं मिलता.

एएन-94 (AN-94)
बॉक्स मैगजीन

एएन-94 (AN-94) असॉल्ट राइफल की फायरिंग रेंज (Firing Range) 700 मीटर है. इसमें 30 और 45 राउंड की बॉक्स मैगजीन या फिर 60 राउंड की कैस्केट मैगजीन लगती है. हैरानी की बात ये है कि अत्याधुनिक असॉल्ट राइफल होने के बावजूद भी इसे ज्यादा सैन्य बलों ने पसंद नहीं किया. क्योंकि इसकी डिजाइन बेहद जटिल है. यह AK-47 की तरह चलाने में आसान नहीं है. न ही आसानी से रिपयरेबल है. हर मौसम में एके-47 की तरह काम नहीं कर पाती.

कैस्केट मैगजीन

फिलहाल इसका उपयोग रूस की सेना, पुलिस, संघीय सुरक्षा सेवाएं और आंतरिक मंत्रालय के अधीन आने वाले सैन्य बल कर रहे हैं. इसके अलावा प्रोविजनल आयरिश रिपब्लिकन आर्मी इस असॉल्ट राइफल का उपयोग कर रही है. इसके अलावा किसी भी देश या सैन्य संगठन ने इस बंदूक को न तो खरीदा है न ही खरीदने का ऑर्डर दिया है.

एएन-94 (AN-94) असॉल्ट राइफल की जटिल डिजाइन और इसकी कीमत इसे खरीदने से मना करती है. लेकिन अगर किसी अपराधी गैंग के पास यह बंदूक है तो यह खतरनाक बात है. क्योंकि सारी चीजें खराब नहीं हैं इसमें. यह बेहद मुश्किल हालात वाले संघर्ष के लिए बनाई गई है. इसलिए इसका बर्स्ट मोड और ऑटोमैटिक फायरिंग मोड बेहद खतरनाक माना जाता है

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter