+

NCRB DATA: दिल्ली में साइबर क्राइम के केस 111 फीसदी बढ़े, NCRB की रिपोर्ट में खुलासा

NATIONAL CRIME RECORD BUREAU 2021 REPORT (NCRB)

NCRB DATA: DIGITAL INDIA के युग में डिजिटल क्राइम भी बढ़ रहा है। दिल्ली में साइबर क्राइम के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि दिल्ली में 2021 में साइबर क्राइम में पिछले वर्ष की तुलना में 111 फीसदी की वृद्धि हुई है।

NCRB DATA: साल 2021 के राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (National Crime records Bureau) के आंकड़ों के अनुसार, अधिकांश मामले ऑनलाइन धोखाधड़ी और ऑनलाइन उत्पीड़न के हैं। शिकायत करने वालों में ज्यादातर 12-17 साल की उम्र की महिलाएं या नाबालिग थीं।

साइबर क्राइम

महिलाओं के खिलाफ दिल्ली असेफ

NATIONAL CRIME RECORD BUREAU 2021 REPORT (NCRB): देश भर में महिलाओं के लिए दिल्ली सबसे ज्यादा असुरक्षित है। साल 2021 में हर दिन दो नाबालिग लड़कियों से रेप हुआ। दिल्ली में 2021 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के 13,892 मामले दर्ज किए गए, जो साल 2020 की तुलना में 40 प्रतिशत से ज्यादा है। वर्ष 2020 में यह आंकड़ा 9,782 था। वहीं 2021 में 19 महानगरों में महिलाओं के खिलाफ अपराध के कुल 43,414 मामले दर्ज किए गए।

NATIONAL CRIME RECORD BUREAU 2021 REPORT (NCRB): दिल्ली में महिलाओं के खिलाफ जितने भी आपराधिक मामले दर्ज हुए है, वो कुल दर्ज मामलों के करीब 32 फीसदी है। दिल्ली के बाद वित्तीय राजधानी मुंबई में 5,543 मामले और बेंगलुरु में 3,127 मामले दर्ज हुए। मुंबई और बेंगलुरु का 19 शहरों में हुए अपराध के कुल मामलों में क्रमश: 12.76 प्रतिशत और 7.2 प्रतिशत का योगदान है।

राजधानी में 2021 में दहेज हत्या के 136 मामले दर्ज किए गए हैं, जो 19 महानगरों में होने वाली कुल मौतों का 36.26 प्रतिशत है। बालिकाओं के मामले में 2021 में पॉक्सो के तहत 1,357 मामले दर्ज किए गए। आंकड़ों के अनुसार, 2021 में बच्चियों से बलात्कार के 833 मामले दर्ज किए गए, जो महानगरों में सबसे अधिक हैं।

हत्या के मामलों में आई मामूली गिरावट

NATIONAL CRIME RECORD BUREAU 2021 REPORT (NCRB): एनसीआरबी की रिपोर्ट के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में हत्या के मामलों में मामूली कमी दर्ज की गई। दिल्ली में 2021 में हत्या के 454 मामले जबकि 2020 में 461 और 2019 में 500 मामले आए थे।

क्या वजहें थी हत्या की ?

NATIONAL CRIME RECORD BUREAU 2021 REPORT (NCRB): 2021 में दिल्ली में दर्ज हत्या के ज्यादातर मामले संपत्ति और परिवारिक विवाद से जुड़े थे। 23 मामलों में प्रेम प्रसंग के कारण हत्या हुई और 12 हत्याएं अवैध संबंधों के कारण हुईं। इनमें 87 हत्याओं के पीछे निजी दुश्मनी वजह थी जबकि 10 हत्याएं निजी फायदे के कारण की गई।

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा आत्महत्या के मामले

NATIONAL CRIME RECORD BUREAU 2021 REPORT (NCRB): एनसीआरबी की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा लोग आत्महत्या करते हैं। 2021 में देशभर में 1,64,033 लोगों ने आत्महत्या की थी, जिसमें 22,207 लोग महाराष्ट्र और 18,925 लोग तमिलनाडु से थे। इसके बाद मध्य प्रदेश में 14,965 आत्महत्याएं, पश्चिम बंगाल में 13,500 आत्महत्याएं और कर्नाटक में 13,056 आत्महत्या की घटनाएं सामने आई हैं।

शेयर करें
Tags :
Whatsapp share
facebook twitter