+

Gold : बिना प्रूफ व कागजात के हम कितना सोना रख सकते हैं? ED और इनकम टैक्स वाले भी कुछ नहीं कर पाएंगे

How much gold is allowed in india in hindi : देशभर में ईडी (ED Raid) की छापेमारी और इनकम टैक्स (Income Tax) की लगातार कार्रवाई को लेकर हर किसी के मन में सवाल उठना लाजमी है कि आखिर हम कितना सोना (Gold) रख सकते हैं.

कितना सोना हम बिना किसी तामझाम या बिना किसी कागजात वाले प्रूफ के रख सकते हैं. कुल मिलाकर इंडिया में कितना सोना रखना ठीक है. जिसे रखने पर पुलिस हो या इनकम टैक्स या फिर ईडी कोई कार्रवाई नहीं कर सकता है.

पहली बात ये समझ लीजिए कि भारत के कानून में सोना रखने की कोई लिमिट नहीं है. यानी आप कितनी भी मात्रा में सोना रख सकते हैं. लेकिन बिना कागजात और प्रूफ के सोना रखने की एक लिमिट है. अगर इससे ज्यादा बेहिसाब सोना आपके पास से मिलता है तो उसका प्रूफ और कागजात दिखाना होगा. अगर उस गोल्ड यानी सोना से जुड़े कागजात नहीं हैं तो आप पर कार्रवाई हो सकती है.

Free Pic

कितना सोना बिना कागजात के रखने पर कोई एक्शन नहीं हो सकता

Gold kitna rakh sakte hain : आप घर में कितना भी सोना रख सकते हैं? आप कितना भी सोना रख सकते हैं, लेकिन उससे जुड़े पक्के कागजात होना जरूरी है. पर खानदानी सोना या शादी में गिफ्ट मिलने पर कई बार कागजात नहीं होते. ऐसे में ये जानना जरूरी है कि बिना कागजात और सबूत के कितना सोना घर में रख सकते हैं.

विवाहित महिला : कोई भी विवाहित महिला अधिकतम 500 ग्राम सोना रख सकती है.

विवाहित महिला के पास अगर 500 ग्राम सोना मिलता है तो उसे कागजात दिखाने की जरूरत नहीं.

अविवाहित महिला : जिस लड़की की शादी नहीं हुई है वो लड़की 250 ग्राम सोना बिना कागजात या प्रूफ के अपने पास रख सकती है.

शादीशुदा और अनमैरिड पुरुष : चाहे शादीशुदा हो या फिर अविवाहित पुरुष उसे अधिकतम बिना कागजात के 100 ग्राम तक सोना रखने की ही अनुमति है.

सोना रखने के लिए कौन-कौन से कागजात हैं जरूरी

Gold News : अगर आपके पास काफी सारा सोना है. तो भी कोई दिक्कत नहीं है. लेकिन इसके लिए जरूरी है कि उससे जुड़े कागजात और सबूत आपके पास हो. असल में इनकम टैक्स 1961 के सेक्शन-132 में ये कहा गया है कि इनकम टैक्स अधिकारी आपके घर पर सोने की मात्रा की जानकारी ले सकते हैं. अगर तय मानक से ज्यादा सोना मिलता है तो अधिकारी उससे जुड़े कागजात चेक कर सकते हैं. ऐसे में ये जानना जरूरी है कि हमें किस तरह के कागजात रखने की जरूत है.

पहला: गोल्ड यानी सोना कहां से खरीदा, उसका असली बिल और जरूरी कागजात. ज्यादा होने पर इनकम सोर्स भी बताना पड़ सकता है.

दूसरा: अगर परिवार से सोना मिला है तो फैमली सेटलमेंट से जुड़े कागजात दिखाना जरूरी.

तीसरा: आपको गिफ्ट में सोना मिला है तो इससे जुड़े गिफ्ट डीड रखना बेहद जरूरी है.

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter