+

कहाँ ग़ायब हो गए हैं तालिबानी नेता मुल्ला अब्दुल ग़नी बरादर ? क्या है वायरल हो रहे ऑडियो की सच्चाई

अफगानिस्तान में तालिबान राज है. तो कब किसकी मौत आ जाए ये कोई नहीं जानता. मगर सरकार बनने के बाद उसके उपप्रधानमंत्री मुल्ला अब्दुल गनी बरादर को लेकर एक जबरदस्त अफवाह उड़ी और ये अफवाह ये कि मुल्ला बरादर की मौत हो गई है.

इस अफवाह ने तालिबान को इतना परेशान कर दिया कि बरादर को अपना ऑडियो टेप जारी कर कहना पड़ा कि उनकी मौत की खबर झूठी है, बेबुनियाद है और वो बिल्कुल ठीक-ठाक है.

इस बीच, अफगान न्यूज चैनल टोलो न्यूज ने भी तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद नईम के ट्वीट हवाले से बताया कि तालिबान के सह-संस्थापक मुल्ला अब्दुल गनी बरादर जिंदा हैं. वो ना घायल हुए हैं ना उनकी मौत हुई है.

आपको बता दें कि अब इसे अफवाह बताते हुए बरादर ने ऑडियो संदेश जारी किया. इसकी पुष्टि करना अभी संभव नहीं लेकिन इसे तालिबान की आधिकारिक वेबसाइट के साथ ही नई सरकार के राजनीतिक दफ्तर ने भी जारी किया.

इससे पहले तालिबान के सुप्रीम लीडर हैबतुल्ला अखुंदजादा के मारे जाने की अफवाह भी उड़ी थी. ऐसा कहा जा रहा था कि मौत की वजह कोविड है या फिर बमबारी है. आखिरकार तालिबान ने इसे खारिज करते हुए कहा कि वो कंधार में मौजूद हैं. हालांकि, सरकार बनने के बाद वो अब तक कैमरे के सामने नहीं आए हैं ना ही किसी ने उन्हें देखा है.

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter