+

दुनिया के इस देश में लगता है मुर्दों की खोपड़ी का मेला,कब्र से खोदकर निकाले जाते हैं मरे हुए परिजनों के सिर

इन खोपड़ियों को फूल, विग और चश्मों से सजाया जाता है और उन्हें बकायदा सिगरेट भी पिलाई जाती है। ऐसे मुर्दे के सिरों को स्थानीय भाषा में लोग नातीतास कहते हैं।

बोलीविय के ला पैज़ शहर में ये मेला लगता है

ये सिर परिवार के उन सदस्यों के हैं जिनकी मौत एक साल पहले हुई थी। कब्र खोदकर एक साल बाद उन शवों के सिरों को कब्र से बाहर निकाला जाता है और फिर उन्हें इस मेले में लेकर आया जाता है।

सिरों पर फूल चढ़ाए जाते हैं, विग पहनाई जाती है, चश्मे लगाए जाते हैं

बोलीविया के ला पैज में मनाए जाने वाले इस जश्न के बारे में लोगों का मानना है कि ऐसा करने से मौत की नींद सोए हुए उनके परिवार के लोग उनकी सभी तकलीफें दूर कर देंगे।

सिरों को जिन डिब्बों में रखा जाता है उन्हें भी खूबसूरती से सजाया जाता है

एक हफ्ते तक इस त्यौहार को मनाने के बाद कब्र से निकाले गए मुर्दों के सिरों को वापस कब्र में ही रख दिया जाता है।

सिरों को लाने ले जाने वाली ट्रे भी बेहद सुंदर होती हैं

लोगों का मानना है कि ऐसा करने से उनके सारे दुख-दर्द दूर हो सकते हैं । ऐसी शक्ति परिवार के उन लोगों की लाश के सिर में होती है जो मर गए हैं।

सिरों को हाथ में लेकर इस तरह से लोग इस मेले में शामिल होने के लिए पहुंचते हैं

Also Read: हिंदुस्तान के इन हिस्सों में जाते ही क्यों गायब हो जाते हैं जहाज ? कहलाते हैं हिंदुस्तान के बरमूडा ट्रायंगल!

Also Read: दुनिया का एक अजीब गांव जहां कई दिनों तक सोते हैं लोग,खाना बनाते-बनाते सोई औरतें 6 दिन बाद खुली आंखें!

Also Read: 30 साल में 12 क़त्ल, हत्या के बाद काट कर ले जाते हैं वो सिर, तामिलनाडु की सबसे अजीब गैंगवार की कहानी

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter