+

UP Crime : बच्चे पाने की चाह में 10 साल के बच्चे का गला घोंटा फिर दांत से गाल काटकर खून चखा, अब उम्रकैद

शाहजहांपुर से विनय पांडेय की रिपोर्ट

UP Crime News : यूपी के शाहजहांपुर में 5 साल पहले नाबालिग बच्चे की हत्या के बाद उसके खून को मुंह से लगा लेने वाली महिला को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है. ये घटना शाहजहांपुर के जमुका गांव की है. करीब 5 साल पहले 5 दिसंबर 2017 में गांव की ही महिला धन देवी ने तंत्रमंत्र के चलते घटना को अंजाम दिया गया था.

शासकीय अधिवक्ता विनोद शुक्ला का कहना है कि महिला धन देवी अपने मामा मुनेंद्र के यहां रह रही थी. उसे कोई बच्चा नहीं हो रहा था. जिस पर किसी तांत्रिक ने उसे सलाह दी कि अगर वह किसी दूसरे के बच्चे की बलि अपने हाथों से चढ़ाएगी तो उसे बच्चा होगा और वह मां बन जाएगी.

टीवी दिखाने के बहाने 10 साल के बच्चे को बुलाया फिर मार दिया

तांत्रिक के कहने पर महिला धन देवी ने अपनी ममेरे भाई सुनील और सूरज के साथ मिलकर अपने पड़ोस के रहने वाले 10 वर्ष के बच्चे लालदास को टीवी देखने के बहाने अपने घर में बुलाया और बच्चे को घर में ही बंद कर लिया. महिला और उसके दो साथियों ने मिलकर बच्चे का गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी. उसके बाद तांत्रिक के अनुसार बताए गए बलि देने के तरीके को अपनाते हुए महिला ने बच्चे के गाल पर काट कर उसका खून पी लिया था. और बच्चे के शव को घर के सामने ही फेंक दिया था.

पुलिस ने शक के आधार पर महिला धन देवी सहित 3 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. पकड़ी गई महिला ने पुलिस की पूछताछ में महिला ने विवेचक को बताया कि बच्चे की बलि चढ़ाने के लिए उसकी हत्या कर दी और गाल पर काटकर बच्चे का खून मुंह में लगा लिया था. फिलहाल, अब जाकर मृतक बच्चे के परिवारवालों को न्याय मिला है. एडीजे थर्ड कोर्ट ने हत्यारी महिला और उसके दो अन्य साथियों को उम्र कैद की सजा सुनाई है.

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter