+

Delhi Crime : बिजली मीटर में छेड़छाड़ बता 5 लाख जुर्माने के बदले ये फर्जी BSES कर्मचारी वसूलते थे 50 हजार रुपये

Delhi Crime News : अगर आपके घर कोई बिजली विभाग (Electricity Fruad) का कर्मचारी बनकर आए और मीटर में गड़बड़ी का दावा कर पैसे मांगे तो सावधान रहें. हो सकता है कि कोई ठग गैंग किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हो. असल में दिल्ली पुलिस ने ऐसे 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जो ऐसी ठगी को अंजाम दे रहे थे. ये गैंग साउथ दिल्ली के सीआर पार्क (CR Park) थाना एरिया के एक घर में कुछ दिन पहले ही पहुंचे थे. इन आरोपियों ने खुद को बिजली सप्लाई प्रोवाइडर कंपनी BSES का कर्मचारी बताया और कहा कि आपके बिजल मीटर में टेंपरिंग है. इसके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा.

5 लाख के जुर्माने का डर दिखाकर 50 हजार वसूलते थे

दिल्ली पुलिस की तरफ से ये बताया गया कि आरोपी कहते थे कि बिजली कंपनी की तरफ से आपपर 5 लाख रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा. जिस पर ये जुर्माना लगाने की बात हुई उससे इन फर्जी कर्मचारियों ने डील भी करने की कोशिश की.

इस दौरान आरोपियों ने कहा कि अगर वो 50 हजार रुपये की रिश्वत दे दे तो 5 लाख नहीं देने होंगे. किसी तरह से उस शख्स को भरोसे में लेकर इन आरोपियों ने उसे सावित्री फ्लाइओवर के पास बुलाया. चूंकि पीड़ित को इस बात को शक हो गया था कि ये फर्जी लोग हैं. इसलिए उन्होंने सीआर पार्क पुलिस को सूचना दे दी.

सीआर पार्क के एसएचओ रितेश कुमार शर्मा की टीम ने आरोपियों को रंगेहाथ पकड़ने की प्लानिंग बनाई. इसके बाद पुलिस की एक टीम सीक्रेट तरीके से फ्लाइओवर के पास पहुंच गई. वहां पर पुलिस ने 5 आरोपियों को रिश्वत की पहली किस्त के रूप में 32 हजार रुपये कैश लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया. इन आरोपियों में मुख्य सरगना साहिल गोयल उर्फ बंसल, अजय कुमार, अमरदीप, नरेश और अमित तोमर हैं.

इनमें अमित तोमर पहले बीएसईएस में कॉन्ट्रैक्ट पर कर्मचारी रह चुका है. उसे पता है कि बिजली मीटर को लेकर कैसे लोगों से पैसे वसूले जा सकते हैं. इसलिए उसी के आइडिया पर साहिल गोयल और उसके साथियों ने मिलकर लोगों को बिजली मीटर में छेड़छाड़ करने की बात कहकर एक्सटॉर्शन से पैसे वसूलते थे.

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter