+

Crime Story : 'कबूल है'सीरियल देख खूनी साजिश रची पायल ने हमशक्ल हेमा का मर्डर कर लेटर में लिखा...

Noida Payal Crime Story : खुद को मरा बताकर 4 लोगों की हत्या की साजिश रचने वाली लड़की को लेकर पुलिस ने कई बड़े खुलासे किए हैं. असल में लड़की अपनी कद काठी वाली लड़की की हत्या कर गहरी साजिश रची थी. असल में पायल और उसके प्रेमी ने कबूल है सीरियल देखकर ये साजिश रची थी. अपनी पहचान छुपाने के लिए उसने हेमा चौधरी की हत्या करने के बाद उसके साथ एक सुसाइड नोट छोड़ दिया था.

जिसमे लिखा था कि मैं अपनी इच्छा से मर रही हूं. क्योंकि खाना बनाते हुए मेरा चेहरा जल गया था. अब जले हुए चेहरे के साथ मैं जीना नहीं चाहती. इसके बाद लड़की के भाई और दूसरे रिश्तेदारों ने उसे पायल ही समझकर अंतिम संस्कार भी कर दिया था. लेकिन बाद में इस पूरी घटना में चौंकाने वाला खुलासा हुआ. क्या है नोएडा की पायल की गहरी साजिश की कहानी...

Payal Hema Noida murder mystery

फेसबुक पर प्यार और एक अंजान लड़की का कत्ल

Crime Story : मौत का बदला लेने के लिए सोशल मीडिया पर प्यार का जाल. एक अंजान लड़की का कत्ल. फिर उस लाश को एक नई पहचान देना. ये सबकुछ है इस क्राइम की कहानी में. और ये असली सस्पेंस थ्रिलर कहानी है दिल्ली से सटे यूपी के ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) की. तारीख 12 नवंबर की देर रात. ग्रेटर नोएडा के दादरी का बड़पुरा इलाका. यहां एक लड़की की लाश मिली. चेहरा पूरा जला हुआ था. गले पर चाकू से काटने का निशान. सिर पर किसी भारी हथियार से मारने की निशानी. लड़की की पहचान करना मुश्किल था. लेकिन उसने जो कपड़े पहने थे उससे उसकी पहचान हुई.

शिनाख्त हुई पायल नाम की लड़की के तौर पर. उम्र करीब 26 साल. उसके परिवार के लोगों ने बताया कि 6 महीने पहले ही पायल के माता-पिता की भी मौत हो गई थी. ये कहा गया था कि उन पर काफी कर्जा हो गया था. जिसे लेकर दूर के रिश्तेदार ही काफी परेशान करते थे. जिसकी वजह से दोनों ने आत्महत्या कर ली थी.

इस तरह 6 महीने के भीतर एक ही परिवार के 3 लोगों की जान जाने से सभी लोग हैरान थे. माता-पिता ने तो सुसाइड किया लेकिन बेटी का मर्डर. आखिर क्यों. किस वजह से. ये सबकुछ कई सवाल खड़े कर रहा था. गांव के लोग ये भी शक जता रहे थे कि कहीं कर्ज वाले मामले को लेकर ही पायल का कत्ल तो नहीं हुआ. इन सभी बातों को लेकर चर्चाएं हो रहीं थीं. उधर, दादरी पुलिस भी मामले की जांच कर रही थी.

जहां लाश मिली उससे 19 किमी दूर उसी दिन एक लड़की हुई गायब

उधर, ग्रेटर नोएडा का ही बिसरख थाना. दादरी से करीब 19 किमी की दूरी पर है बिसरख. यहां के बिसरख थाने में एक परिवार ने अपनी बेटी के लापता होन की शिकायत दी. वो लड़की गौर सिटी मॉल के एक शोरूम में नौकरी करती थी. उस लड़की का नाम था हेमा चौधरी. उम्र वही करीब 27 साल. वो 12 नवंबर को ही अचानक लापता हो गई.

परिवार के लोगों ने काफी तलाशा. लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली. फिर दो दिन बाद बिसरख पुलिस में शिकायत की. पुलिस ने उस शोरूम में जाकर पूछताछ की. पता चला कि शाम को वो निकल गई थी. पुलिस ने फिर उसके मोबाइल फोन की लोकेशन निकाली. उसमें पता चला कि 12 नवंबर की रात की आखिरी लोकेशन उसकी दादरी के बड़पुरा इलाके की है.

पुलिस उसी तलाश करते हुए करीब एक हफ्ते बाद दादरी पहुंची. वहां की पुलिस से जानकारी जुटाई. पता चला कि 12 नवंबर की देर रात में ही एक लड़की की लाश मिली थी. ये सुनकर बिसरख पुलिस हैरान हो गई. फिर पता चला कि उस लड़की की तो पहचान हो गई थी. उसका नाम पायल था. परिवार के लोगों ने तो उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया. दादरी पुलिस ने उसकी फोटो दिखाई. फोटो से पता चला कि उसका चेहरा जला हुआ था.

पहचान उसके चेहरे से नहीं बल्कि कपड़ों से हुई. अब पुलिस को ये गजब का इत्तेफाक लगा. गायब हुई हेमा चौधरी की आखिरी लोकेशन दादरी के बड़पुरा में मिली. उसके बाद उसका फोन अचानक बंद हो गया. उसी की कद काठी वाली एक लड़की की लाश मिली. लेकिन उसकी पहचान पायल के रूप में हुई. अब पुलिस मरने वाली पायल की भी पड़ताल करने लगी. उसके सोशल मीडिया अकाउंट से लेकर उसके फोन की डिटेल जांचने लगी. इन्हीं जांच के बाद जो कुछ सामने आया वो जानकर पुलिस भी हैरान हो गई.

आरोपी पायल और उसका प्रेमी पति अजय

खुद के मर्डर के 7 दिन बाद ही आर्य समाज में शादी

Crime Story : अब बिसरख पुलिस ने जब पायल की पड़ताल की तो पता चला कि वो फेसबुक के जरिए किसी लड़के के संपर्क में थी. वो लड़का बुलंदशहर के सिकंदराबाद का रहने वाला है. नाम है अजय ठाकुर. वैसे अजय शादीशुदा और 2 बच्चों का पिता है. पुलिस की सर्विलांस जांच में पता चला कि पायल अभी जिंदा है. और अपने फेसबुक फ्रेंड अजय से शादी कर चुकी है. जब पायल की हत्या की खबर सामने आई थी उसी के 7 दिन बाद ही 19 नवंबर को पायल और अजय ने आर्य समाज मंदिर में बाकयादा शादी कर ली थी.

उसके बाद से दोनों एक साथ बुलंदशहर में ही कहीं रहने लगे थे. लेकिन ऐसा करने के पीछे क्या पायल का मकसद सिर्फ फेसबुक से मिले प्रेमी से शादी रचाने की थी. या फिर उसका टारगेट कुछ और था. अब ये पता लगाने के लिए पुलिस ने पायल और उसके प्रेमी पति अजय की तलाश की. अब पुलिस ने 30 नवंबर को जब दोनों को गिरफ्तार कर पूछताछ की तब बेहद ही चौंकाने वाली कहानी सामने आई.

7 फेरों से पहले पायल ने मांगी थी अपनी हमशक्ल का खूनी अंत

Murder Mystery : पायल और अजय दोनों की मुलाकात कई महीने पहले ही फेसबुक पर हुई थी. सोशल मीडिया पर पायल से दोस्ती के बाद से ही अजय उसका दीवाना हो गया था. उसी से शादी के सपने देखने लगा था. अब पायल उससे एक खास मकसद से शादी करना चाहती थी. जबकि अजय सोशल मीडिया पर पायल को देखकर ऐसा दीवाना हुआ था कि वो भी उसे नजरअंदाज नहीं कर पा रहा था.

आखिर में पायल ने अजय के साथ रहने का प्लान कर लिया. उसे आर्य समाज में शादी रचाने के लिए भी राजी कर लिया. लेकिन इस शादी और 7 फेरों की कीमत थी एक लड़की का खून. वो लड़की जो पायल जैसी काफी हद तक दिखती हो. वो लड़की जो पायल की कद काठी की हो. वो लड़की जिसे मारकर उसका चेहरा बिगाड़ दिया जाए तो किसी को शक ना हो कि मरने वाली पायल है या कोई और.

पायल और अजय के परवान चढ़ रहे इस नए रिश्ते के एवज में अजय को ही वैसी लड़की का इंतजाम करना था. फिर अजय ने वैसा ही किया. उसने एक लड़की की तलाश शुरू की. फिर उसकी तलाश पूरी भी हुई. उस लड़की को कुछ पैसों की जरूरत थी. 5 हजार रुपये देने का झांसा देकर हेमलता को अपने जाल में फंसाया और दादरी के बड़पुरा इलाके में बुला लिया.

हेमा चौधरी को देखते ही पायल ने पहले गले पर चाकू मारा था

Noida Murder Mystery : तारीख 12 नवंबर. उस दिन अजय किसी तरह झांसे में लेकर हेमलता को अपने पास ले आता है. इसके बाद एक तरह से उसका अपहरण कर लेता है और पायल के सामने पहुंचा देता है. पायल उसे देखते ही तुरंत पहले से तैयार चाकू से हमला कर देती है. उसके गले पर चाकू मारती है. इसके बाद किसी भारी हथियार से हेमलता के सिर पर मारती है. कुछ देर बाद तड़प तड़पकर हेमलता की मौत हो गई.

खौलते हुए सरसों के तेल से हेमा चौधरी का चेहरा जलाया

 अब उसके चेहरे को छुपाना था. इसलिए पायल सरसों का तेल कड़ाही में पूरा गर्म करती है. उसी खौलते हुए सरसों के तेल से हेमलता का पूरा चेहरा जला देती है. ऐसा जलाती है जिससे उसकी पहचान ही मिट जाए. इसके बाद उस रात में जो खुद कपड़े पहनकर बाहर घूमने गई हुई थी उसी कपड़े को हेमलता को पहना देती है.

इस तरह अब हेमा चौधरी मरी हुई पायल बन जाती है. वो भी बिना चेहरे की. इसके बाद उस लाश को देर रात में ही दूर ले जाकर सुनसान जगह पर फेंक देते हैं. ताकी किसी को मिले तो ये लगे कि ये पायल की लाश है. फिर उसी रात में पायल अपने प्रेमी अजय के साथ वहां से भागकर बुलंदशहर पहुंच जाती है.

खुद को मुर्दा बता 4 मर्डर करने की थी पायल की असली साजिश

Payal Hema Chaudhari Murder Story : हेमा चौधरी की हत्या से लेकर उसके चेहरे को जलाने का मकसद तो पुलिस को समझ में आ गया. लेकिन खुद का मर्डर करा देने से आखिर पायल को क्या फायदा मिला. क्योंकि उसके परिवार ने मर्डर को लेकर किसी के खिलाफ कोई शिकायत नहीं कराई थी. ऐसे में आखिर पायल की साजिश क्या थी. इस बारे में जब पूछताछ की गई तो बेहद शातिर और चौंकाने वाला खुलासा हुआ.

असल में पायल ने बताया कि उसके माता-पिता दोनों की मौत के पीछे लाखों रुपये का कर्जा है. उस कर्ज को दूर के रिश्तेदारों ने दिया था. वो 4 लोग थे जो मेरे माता-पिता पर काफी प्रेशर बना रहे थे. जिनकी वजह से उनको जान देनी पड़ी. इसलिए उसकी साजिश थी कि खुद को मार घोषित कर देगी. जब कुछ समय बीत जाएगा और मामला शांत हो जाएगा तब वो चारों की गोली मारकर हत्या कर देगी. इसके लिए पायल ने पिस्टल तक खरीद ली थी. उसकी साजिश थी कि वो मर्डर कर देगी तो भी कैसे साबित होगा कि एक मरा हुआ इंसान किसी का कत्ल कैसे कर सकता है.

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter