+

UP Crime: पत्नी की हत्या में पुलिस ने पति को भेजा जेल, पत्नी प्रेमी के घर मिली जिंदा!

Mathura Crime News: मथुरा में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है जिस पत्नी (Wife) की हत्या (Murder) के आरोप में वृंदावन कोतवाली पुलिस ने महिला के पति (Husband) व उसके दोस्त (Friend) को जेल (Jail) भेजा था वह महिला अपने प्रेमी के साथ जिंदा मिल गई। कथित तौर पर मर चुकी महिला के जिंदा मिलने से हड़कंप मच गया।

बताया जाता है कि सूरज प्रसाद की 24 साल की बेटी आरती 5 सितंबर 2015 को लापता हो गई थी। इस मामले में आरती के पिता ने सोनू, भगवान सिंह व अरविंद के खिलाफ उनकी बेटी की हत्या कर शव को छुपाने का आरोप लगाया था। पुलिस ने इस मामले में सोनू और उसके दोस्त गोपाल को गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया था।

पति ने दोस्त के साथ 9 महीने जेल में गुजारे। आरती का पति खुद को बेकसूर साबित करना चाहता था। लिहाजा लंबी जेल काटने के बाद जब वो जमानत पर बाहर आया तो उसने पत्नी आरती की तलाश शुरु कर दी। सोनू व उसका दोस्त गोपाल आरती की लगातार तलाश में जुटे थे। दोनों की कोशिशें जारी थी कि उन्हें एक दिन सफलता हासिल हो गई।

जी हां सोनू को पता चला कि उसकी पत्नी आरती दौसा जिले के मेहंदीपुर बालाजी के विशाला गांव में मौजूद है। ये जानकारी मिलते ही सोनू ने मथुरा पुलिस को पूरा वाकया बताया। मृत महिला के जिंदा होने की खबर लगते ही पुलिस के होश उड़ गए। आनन फानन में पुलिस की स्वाट टीम ने आरती को दौसा से बरामद कर लिया।

आरती की बरामदगी के बाद खुलासा हुआ कि आरती पिछले कई सालों पति का घर छोड़कर चली गई थी और अपने प्रेमी के साथ रह रही थी। अब सवाल मथुरा पुलिस की जांच पर उठ रहा है कि आखिर पुलिस ने जिसकी हत्या के आरोप में सोनू व गोपाल को जेल भेजा था वो लाश किसकी थी। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कराने वाले आरती के पिता सूरज प्रसाद को भी पूछताछ के लिए बुला लिया है और माता-पिता दोनों से पूछताछ की जा रही है।

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter