+

UP News : 110 की स्पीड में थी ट्रेन, पटरी पर पड़ा सरिया यात्री के गले को फाड़ सिर में घुसा, मौत

UP Aligarh Crime : यकीन नहीं होता मौत ऐसे भी आती है. वाकई मौत कब और कैसे आ जाए, ये कोई नहीं जानता. एक शख्स ट्रेन में सुरक्षित सफर कर रहा था. अपनी सीट की खिड़की के पास वो बैठे थे. सबकुछ ठीक था. अचानक एक नुकीला सरिया खिड़की तोड़ते हुए अंदर आया. ये सरिया सीधे उस शख्स की गर्दन में होते हुए सिर को आरपार कर गया. बस खिड़की से सरिया के टकराने की एक तेज आवाज आई और दर्द भरी चीख.

उस शख्स की सीट पर बैठे-बैठे ही मौत हो गई. उस कोच में बैठे यात्रियों को कुछ समझ नहीं आया. आंखों के सामने हंसते और बात करता हुआ एक शख्स अचानक खामोश हो गया था. पर ट्रेन के उस कोच में चीखें सुनाईं देने लगीं थीं. लोगों ने शोर मचाया. रेलवे पुलिस को बताया. पुलिस ने तुरंत उसे अगले स्टेशन पर अस्पताल ले गए लेकिन मौत हो चुकी थी.

ऐसे हुआ हादसा, गले और सिर में घुसा सरिया

नीलांचल एक्सप्रेस में बैठे शख्स की हुई मौत, रफ्तार थी 110km/h

Aligarh Train Accident : मरने वाले की पहचान हरिकेश दुबे के रूप में हुई. वो यूपी के सुल्तानपुर के गोपीनाथपुर के रहने वाले थे. ये दिल दहलाने वाला हादसा सुपरफास्ट नीलांचल एक्सप्रेस में यूपी के अलीगढ़ के पास हुआ. जिस समय ये हादसा हुआ उस समय ट्रेन की रफ्तार करीब 110 किमी प्रति घंटे थी. ये बताया जा रहा है कि रेलवे पटरी पर काम करने वाले मजदूर ने ट्रैक के बिल्कुल पास में एक सरिया को छोड़ दिया था. जैसे ही ट्रेन वहां से गुजर रही थी तभी सरिया काफी तेज रफ्तार से हवा में उछला और फिर जिस कोच में हरिकेश बैठे थे उसी में घुस आया.

हरिकेश के गले में घुसने के बाद सरिया का हिस्सा दूसरी सीट पर ऐसे निकला

दिल्ली में टेक्नीशियन थे मरने वाले हरिकेश

ये सरिया हरिकेश के गर्दन से होकर सीधे सिर में घुस गया. जिस सीट पर हरिकेश बैठे थे उनके सामने ही एक महिला भी थीं लेकिन वो लेटी हुईं थी इसलिए वो बाल-बाल बच गईं. हादसे के बाद मौके पर चारों तरफ खून ही फैल गया. अफरातफरी मच गई. बताया जा रहा है कि हरिकेश दिल्ली में मोबाइल टावर से जुड़ी किसी कंपनी में टेक्नीशियन थे. वो नीलांचल एक्सप्रेस के जनरल कोच में सवार थे. वह खिड़की के पास बैठे थे तभी ये हादसा हुआ.

आखिर कैसे हुआ होगा हादसा

एक्सपर्ट बताते हैं कि जिस ट्रेन में ये हादसा हुआ उसी ट्रेन से सरिया नहीं टकराया होगा. क्योंकि अगर ऐसा होता तो सरिया विपरीत दिशा में कहीं जाता. लेकिन इस केस में सरिया ट्रेन के अंदर आता है. ऐसे में कहा जा रहा है कि दूसरी पटरी पर जा रही ट्रेन से टकराकर सरिया सामने वाली ट्रेन के कोच में घुस गया. जिससे शख्स की मौत हो गई. इस पूरे मामले को लेकर रेलवे अधिकारियों का कहना है कि मामले की जांच कराई जा रही है.

शेयर करें
Tags :
Whatsapp share
facebook twitter