+

IS से जुड़ा था रियाज का रिश्ता, दोनों आरोपियों का एक खौफनाक प्लान जानकर हैरान हुई NIA

UDAIPUR MURDER INVESTIGATION: उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल साहू की हत्या के आरोपियो के तार (Link) कहां तक फैले हुए थे। इस सवाल का जवाब तलाशने में जुटी केंद्रीय जांच एजेंसी NIA ने अब तक जो बिखरी हुई कड़ियों को जोड़कर देखा है तो कई चौंकानें वाले तथ्य और बातें नज़र आई हैं। जिसकी वजह से देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी ने भी अब इस मामले की एक एक परत को उधेड़ने का इरादा कर लिया है।

जिस तरीके से रियाज और गौस ने मिलकर कन्हैया लाल की हत्या की वारदात को अंजाम दिया, उसने वीडियो सामने आने के फौरन बाद ही इस बात का इशारा तो दे ही दिया था कि क़त्ल का ये तरीका कहीं न कहीं बग़दादी के इस्लामिक स्टेट के आतंकियों से जाकर मिलता है। मगर NIA की जांच में अब ये बात खुलकर सामने आती दिख रही है कि रियाज और गौस के तार कहीं न कहीं ISIS जैसे आतंकियों संगठन से भी जाकर मिलते थे।

लेकिन इसके अलावा एक और खुलासे ने केंद्रीय जांच एंजेंसियों को बुरी तरह चौंकाया। सूत्रों से पता चला है कि रियाज और गौस अपने कुछ और साथियों के साथ मिलकर जयपुर में एक सीरियल ब्लास्ट करने की साज़िश रच रहे थे। हालांकि इनका ये प्लान फेल हो गया। जांच से ये संकेत मिले हैं कि बीती 30 मार्च को ये दोनों मिलकर जयपुर में एक सिलसिलेवार धमाका करने की साज़िश रच चुके थे।

मगर चित्तौड़ में ही 12 किलो RDX के पकड़े जाने के बाद और उस RDX के सिलसिले में इनकी टीम के कुछ और लोगों को मध्यप्रदेश के रतलाम से गिरफ़्तार कर लिया गया था। जिसकी वजह से इनकी ये साज़िश सिरे चढ़ने से पहले ही ढेर हो गई थी।

उदयपुर में IS के स्लीपर सेल का सरगना था रियाज़

NIA INVESTIGATION: इसके अलावा पाकिस्तान की दावत ए इस्लामी से जुड़े इनके तारों का एक सिरा इस्लामिक स्टेट के आतंकियों के पास तक जा पहुँचा था। जांच में पता चला है कि इस्लामिक स्टेट के स्लीपर संगठन अलसूफा से इन दोनों का संपर्क बना हुआ था। खुलासा ये भी हुआ है कि रियाज अत्तारी उदयपुर में अलसूफा का सरगना था और बीते पांच सालों से वो उदयपुर और उसके आसपास के इलाक़ों में अलसूफा के लिए काम कर रहा था।

इतना ही नहीं रियाज ने मध्यप्रदेश के रतलाम और उसके आस पास के इलाक़ों तक में अपना नेटवर्क फैला रखा था। केंद्रीय जांच एजेंसी की अब तक की तफ़्तीश में ये भी पता चला है कि टोंक में IS का एक गुट सक्रिय है, जिसका सरगना मुजीब है और रियाज के तार मुजीब से जाकर मिलते हैं।

बताया जाता है कि रियाज अपने 11 भाई बहनों में सबसे छोटा था और दसवीं के बाद उसने पढ़ाई नहीं की। शादी के बाद रियाज ने उदयपुर में ही रहना शुरू कर दिया था और यहां वेल्डिंग का काम करता था। उसकी पत्नी के अलावा एक बेटा और एक बेटी भी है।

गौस मोहम्मद ने ही रियाज़ का किया था ब्रेनवॉश

UDAIPUR KILLER: केंद्रीय जांच एजेंसी ने अब रियाज का अतीत खंगालने के लिए उसकी पत्नी को भी हिरासत में ले लिया है। जबकि उसका साथी गौस मोहम्मद पहले से ही पुलिस की गिरफ़्त में है।

गौस मोहम्मद उदयपुर और उसके आस पास के इलाक़ों में अपनी तकरीरों के ज़रिए नौजवान लोगों को गुमराह करता है और मज़हब के नाम पर लोगों के भीतर नफरत भरने का अभियान चला रखा था। 2013-14 में गौस मोहम्मद जोधपुर के रास्ते नेपाल होता हुआ पाकिस्तान के कराची गया था।

पता चला है कि कराची में गौस मोहम्मद ने क़रीब 45 दिन की ट्रेनिंग ली थी। इस ट्रेनिंग में उसके साथ 30 लोग और भी शामिल थे। असल में गौस मोहम्मद उदयपुर में एक मस्जिद में खिदमतगार के तौर पर काम कर रहा था। लेकिन जांच से ये भी बात खुली है कि असल में खिदमतगार की आड़ में वो लोगों का ब्रेनवॉश करने का काम करता था और उन्हें धर्म के नाम पर भड़काता था।

गौस मोहम्मद के बारे में ये भी पता चला है कि वो उदयपुर के साथसाथ दिल्ली कानपुर और मुंबई की बैठकों में भी हिस्सा लेने के लिए जाया करता था।

उदयपुर में एक और कारोबारी की हत्या का था प्लान

अभी तक की जांच में ये बात खुलकर सामने आ चुकी है कि रियाज और गौस टेलर के अलावा उदयपुर में एक और कारोबारी की हत्या करने का प्लान बना चुके थे। और उनकी इस साज़िश में कुछ और लोग भी शामिल थे। NIA ने फिलहाल चार और लोगों को हिरासत में लिया है।

केंद्रीय जांच एजेंसी की जांच में ये भी खुलासा हुआ है कि गौस मोहम्मद ने ही रियाज का ब्रेन वॉश किया था। NIA ने अपनी जांच में ये पता भी लगा लिया है कि टेलर कन्हैया की हत्या के बाद इन दोनों ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर इसलिए डाला था ताकि इस्लामिक स्टेट के आतंकियों की तर्ज पर उनकी दहशत फैल सके। और हत्या के उस वीडियो की वजह से तहलका मच जाए।

फिलहाल तो दोनों आरोपी इस वक़्त NIA के कब्जे में हैं और एनआईए की टीम दोनों को लेकर दिल्ली पहुँच रही है। पता यही चला है कि आगे की पूछताछ अब दोनों से दिल्ली में ही होगी।

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter