+

Shraddha Case : खून का धब्बा किसका ? क्या ये खून श्रद्धा का ?

अरविंद ओझा और हिमांशु मिश्रा के साथ चिराग गोठी की रिपोर्ट

Shraddha Case : दिल्ली पुलिस को आफताब के फ्लैट से एक अहम सबूत हाथ लगा है। ये अहम तब और हो जाएगा, जब ये साफ हो जाएगा कि फ्लैट से मिला खून का धब्बा आखिर किसका है ? क्या ये खून का धब्बा श्रद्धा का है या नहीं ? दिल्ली पुलिस आफताब से लगातार पूछताछ कर रही है और आफताब तरह-तरह के बयान देकर केस को पेचीदा कर रहा है। फॉरेंसिक टीम ने इस घर के कई चक्कर काटे। जिस बाथरूम में श्रद्धा की लाश के टुकड़े किए गए, वहां तो कुछ नहीं मिला, लेकिन किचन में एक जगह खून के कुछ धब्बे जरूर मिले है।

Shraddha Case : पुलिस सूत्रों की मानें तो आफताब के घर की तलाशी के दौरान किचन में गैस सिलिंडर रखनेवाली जगह खून के निशान नजर आए। इसके अलावा अब तक की छानबीन में पुलिस को ना तो घर के किसी दूसरे हिस्से में और ना ही फ्रिज में खून का कोई धब्बा या ऐसी ही कोई दूसरी चीज नजर आई, क्योंकि इन पांच से छह महीनों में आफताब बार-बार पूरे मकान की और खास कर उन जगहों की सफाई करता रहा, जहां पर उसने श्रद्धा की हत्या की या फिर लाश के टुकडे़ किए।

इसी बीच पुलिस ने आफताब की निशानदेही पर छतरपुर की कुछ नालियों की भी तलाशी ली और वहां से हड्डियों के टुकडे़ बरामद किए आफताब की निशानदेही पर नाले से बरामद हड्डियों के ये टुकडे़ अगर श्रद्धा की हड्डियों के टुकडे निकल आए तो इस केस के लिए बेहद पुख्ता सबूत साबित होंगे।

आफताब की साज़िशों में एक वैक्यूम क्लीनर वाला पहलू भी और जुड़ गया है। पुलिस की पूछताछ में आफताब ने बताया है कि उसने श्रद्धा की जान लेने और उसकी लाश निपटाने के बाद सबूत मिटाने के इरादे से ही खास तौर पर एक वैक्यूम क्लीनर ऑन लाइन खरीदा था, ताकि पानी और एसिड की साफ-सफाई के बाद अगर खून या लाश के कुछ निशान बाकी रह जाएं, तो उन्हें वैक्यूम क्लीनर से खींच कर पूरी तरह साफ कर दिया जा सके।

शेयर करें
Tags :
Whatsapp share
facebook twitter