+

Delhi Crime: दिल्ली में एक हफ्ते के भीतर दो किन्नरों की हत्या, किन्नर ने रची किन्नर के कत्ल की साजिश!

Delhi Crime News: पुलिस के मुताबिक उन्हें राजौरी गार्डन (Rajouri Garden) थाने में 15 जनवरी की शाम करीब 4.35 बजे खबर मिली थी कि खून से लथपथ (Pool of Blood) एक व्यक्ति का शव पड़ा है। पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। जांच के दौरान शव की पहचान रघुबीर नगर निवासी शाकिर हुसैन उर्फ पिंकी के रूप में हुई। इसमें मृतक के गले और दाहिने कान के पीछे गहरे कट के निशान मिले हैं।

पिंकी एक किन्नर थी। इसके बाद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू की। हत्या के इस मामले में पुलिस ने जांच शुरु की तो पता चला कि रघुवीर नगर इलाके में ही रहने वाले एक और किन्नर भारत से पिंकी की दुश्मनी थी। इलाके को लेकर दोनों किन्नरों में अक्सर विवाद होता रहता था।

हाल ही में पिंकी से भारत का झगड़ा भी हुआ था यही वजह थी कि भारत ने पिंकी की हत्या का प्लान बनाया। भारत ने पिंकी की हत्या के लिए बाकायदा भाड़े के हत्यारों की तैयार किया। भारत ने सोनीपत के रहने वाले किशन और विक्की को पिंकी की हत्या की सुपारी दी। किशन और विक्की ने पिंकी की हत्या करने में अपने एक नाबालिग साथी की भी मदद ली। तीनों आरोपियों ने रेकी करके पिंकी को राजौरी गार्डन इलाके में चाकुओं से गोदकर मार डाला और फरार हो गए थे।     

दिल्ली में 10 जनवरी को भी हुई थी किन्नर की हत्या

नए साल यानि जनवरी की 10 तारीख थी। इसी रोज सनलाइट कॉलोनी की पुलिस को पीसीआर कॉल पर खबर मिली कि एक किन्नर को कुछ लोग लहूलुहान हालत में एम्स असपताल लाए हैं जहां उसकी मौत हो गई है। खबर मिलते ही सनलाइट कॉलोनी की पुलिस तुरंत एम्स पहुंची और पता चला कि मरने वाले किन्नर का का नाम मीनल है। जिसे कुछ लोगों ने चाकुओं से गोद दिया था।

पुलिस ने अभिषेक उर्फ मीनल के परिजनों व दोस्तों के बयान दर्ज किए और कत्ल का केस दर्ज जांच शुरु कर दी। पुलिस ने मौका ए वारदात पर सबूत इकट्ठा किए और पूछताछ में खुलासा हुआ कि मीनल का एक बॉयफ्रेंड भी है जिसका नाम हिमांशु है। हिमांशु को ही आखिरी बार मीनल के साथ देखा गया था। पुलिस ने हिमांशु की तलाश शुरु कर दी।

तकनीकी सर्विलांस और सीसीटीवी के जरिए पुलिस ने हिमांशु को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया। हिमांशु की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो पता चला कि हिमांशु ने ही मीनल की हत्या की थी। मीनल की हत्या में हिमांशु के साथ उसका दोस्त सोनू भी शामिल था। लिहाजा पुलिस ने सोनू को भी गिरफ्तार कर लिया।  

एक किन्नर के इश्क़ का खूनी अंत

पूछताछ में हिमांशु ने खुलासा किया कि आरोपी हिमांशु मृतका मीनल का पुराना दोस्त था और वह हरि नगर आश्रम स्थित उसके फ्लैट पर अक्सर आया-जाया करता था। दोनों के बीच प्रम संबध और रिश्ते भी थे। खुलासा ये भी हुआ कि मीनल पिछले कई दिनों से हिमांशु से अपने रिश्ते का खुलासा करने की धमकी दे रही थी।

मीनल ने धमकी दी थी कि पैसे दो नहीं तो इन रिश्तों के बारे में हिमांशु के पिता को सबकुछ बता देगी। धमकी से परेशान हिमांशु ने मीनल को हमेशा हमेशा के लिए खत्म करने की साजिश रची। अब इस साजिश को अमली जामा पहनाना था। इस साजिश में हिमांशु ने अपने दोस्त सोनू को भी शामिल किया।

लव, सेक्स, ब्लैकमेलिंग का खेल

दरअसल सोनू नाम का युवक हिमांशु के पिता की स्पेयर पार्ट की दुकान पर काम करता है। हिमांशु ने सोनू को अच्छा मोबाइल फोन देने के बदले अपने साथ शामिल कर लिया। प्लानिंग को मुताबिक 10 जनवरी को दोनों मीनल के फ्लैट पर पहुंचे और उसकी चाकू से गोदकर हत्या कर दी।

पुलिस अफसरों के मुताबिक आरोपी हिमांशु एक छात्र है और ओपन स्कूल ऑफ लर्निंग से स्नातक की पढ़ाई कर रहा है। आरोपी सोनू आरोपी हिमांशु के पिता की स्पेयर पार्ट की दुकान पर काम करता है।

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter