+

कोड नंबर 1, 2, 3, 4 और 5 ने किया मर्डर ! दिल्‍ली डबल मर्डर केस : पहली बार की वारदात, कोड नेम था 1, 2, 3, 4 और 5

अरविंद ओझा के साथ चिराग गोठी की रिपोर्ट

Jangpura Extension Double Murder Case : साउथ ईस्ट दिल्ली के जंगपुरा एक्स,टेंशन की कोठी में काम करने वाली 2 मेड की हत्या का केस दिल्ली पुलिस ने सुलझा लिया है। इस मामले में पुलिस ने 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। डबल मर्डर की वारदात को अंजाम देने वाले सभी आरोपियों का कोई पुराना क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं है। पहली ही वारदात को जिस तरह इन पांचों आरोपियों ने अंजाम दिया, पुलिस वालों के भी होश उड़ गए। पूछताछ के आरोपियों ने खुलासा किया की लूट के इरादे से सभी कोठी में दाखिल हुए थे। विरोध करने पर कोठी में काम करने वाली महिलाओं उजाला और मीना की हत्या कर दी।

पकड़े गए आरोपियों के नाम प्रशांत, सचित,अनिकेत, रमेश और धनंजय है। पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार आरोपी सचित सक्सेना की रिश्तेदार 2 साल पहले कोठी में काम करती थी, लेकिन उसने बाद में काम छोड़ दिया, सचित ने ही बाकी आरोपियों को बताया था की कोठी में काफी पैसे हैं, जिसके बाद लूट का प्लान बना। इन लोगों ने 1 महीने तक कोठी की रेकी।

File Photo

वारदात के वक्त आरोपियों ने अपना कोड नेम रखा 1,2, 3, 4., 5.

हुडी पहनकर पहुंचे मर्डर करने

रेकी की दौरान पांचों आरोपियों को कोठी का सीसीटीवी दिखा था, इसी वजह से ये सभी हुडी पहन कर आए थे जिससे आरोपियों का चेहरा दिखाई नहीं दे रहा था, इतना ही नहीं प्लान बनाते वक्त ही ये तय हो गया था की लूट के दौरान कोठी में जो भी विरोध करेगा उसकी हत्या कर दी जाएगी। आरोपी वारदात के वक्त अपना फोन कहीं और छोड़ कर आए थे, ताकि जांच के दौरान लोकेशन न मिल सके। आरोपी लूट के बाद कोठी में लगे सीसीटीवी कैमरा का डीवीआर भी उखाड़ कर ले गए थे, लेकिन पड़ोस में लगे सीसीटीवी में पांचों आरोपी कोठी में दाखिल होते वक्त कैद हो गए थे और यहीं से पहला सुराग पुलिस को मिला। पुलिस ने आरोपियों के पास से लूट के 90 लाख रुपए, कोठी का उखाड़ा गया सीसीटीवी का डीवीआर, 7 मोबाइल फोन बरामद किया है। सभी आरोपियों से पूछताछ जारी है।

Also Read: किसने हत्या की दो नौकरानियों की ! दिल्ली की आलीशान कोठी में मिली दो नौकरानियों की लाश

Also Read: पहले गे जज ! सौरभ कृपाल बनेंगे दिल्ली हाईकोर्ट के प्रथम गे जज

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter