+

बरादर जिंदा है ! सरकारी चैनल को इंटरव्यू देता नजर आया बरादर

ये खबरें गलत साबित हुई जिसमें कहा जा रहा था कि मुल्ला बरादर की हत्या हो गई है। खुद मुल्ला बरादर एक टीवी इंटरव्यू में प्रकट हुए। अफगानिस्तान में तालिबान सरकार के डिप्टी प्रधानमंत्री अब्दुल गनी बरादर बुधवार को एक टीवी इंटरव्यू में नजर आए। इस दौरान बरादर ने तालिबान के सहयोगी गुट के साथ झड़प में घायल होने की बात को भी नकार दिया। दरअसल, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा था कि बरादर हक्कानी नेटवर्क के सदस्यों के साथ हुई झड़प में मारा गए है। समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, दोहा स्थित तालिबान के राजनीतिक दफ्तर की ओर से यह वीडियो जारी किया गया है। इसमें बरादर सरकारी चैनल को इंटरव्यू देता नजर आ रहा है। बरादर ने कहा, ये खबरें गलत हैं। मैं बिल्कुल ठीक और स्वस्थ हूं।

बरादर ने कहा, मीडिया का दावा है कि हमारे बीच आंतरिक विवाद है। यह सच नहीं है। हमारे बीच ऐसा कुछ भी नहीं है। इस वीडियो क्लिप में बरादर एक सोफे पर बैठा नजर आ रहा है। उसके पास इंटरव्यू लेने वाला शख्स भी बैठा है। मुल्ला बरादर ने कहा, चिंता की कोई बात नहीं है।

पहले तालिबान सरकार की ओर से कहा गया था कि इंटरव्यू प्रसारित होगा

इससे पहले तालिबान अफगानिस्तान के सांस्कृतिक आयोग के मल्टीमीडिया ब्रांच के प्रमुख अहमदुल्ला मुत्तकी ने मुल्ला बरादर की तस्वीर के साथ एक फोटो ट्वीट करते हुए कहा कि डिप्टी प्रधानमंत्री मुल्ला बरादर का यह लेटेस्ट इंटरव्यू आज प्रसारित होगा और दुश्मनों की ओर से फैलाए जा रहे प्रोपेगैंडा का खात्मा हो जाएगा। कुछ दिनों से मीडिया में खबरें चल रही थी कि तालिबान और हक्कानी नेटवर्क के बीच सत्ता के बंटवारे को लेकर सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। अफवाह थी कि बरादर समर्थकों और हक्कानी नेटवर्क के लड़ाकों के बीच झड़प में मुल्ला बरादर की मौत हो गई। हालांकि, तालिबान लगातार इसका खंडन कर रहा था।

शेयर करें
Whatsapp share
facebook twitter